पीठ की सुन्दरता के लिए घरेलू उपचार, बचाव एवं व्यायाम

पीठ की सुन्दरता भी वर्तमान में उतनी ही जरुरी है जितनी की चेहरे इत्यादि की फैशन के इस दौर में पीठ की नियमित रूप से देखभाल बहुत जरूरी है ताकि जब भी आप बैकलेस या डीप नेक के ड्रेस पहनें तो उससे झांकती सुंदर पीठ आपकी खूबसूरती को कई गुना ज्यादा बढ़ा दे । अतएव पीठ की सुन्दरता बढ़ाने के लिए भी हर महिला को भरसक प्रयत्न करना चाहिए । आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से पीठ को सुन्दर बनाने के लिए कुछ घरेलू उपचारों, पीठ को काली होने से बचावों एवं व्यायाम के बारे में वार्तालाप करेंगे |

पीठ की सुन्दरता

पीठ की सुन्दरता के लिए घरेलू उपचार:

  • पीठ अधिक काली होने पर दो चम्मच मैदा और एक चुटकी नमक दोनों को दूध में मिलाकर पेस्ट बना लें । इस पेस्ट को पूरी पीठ पर लगाएं । 10 मिनट बाद पीठ को गरम पानी से धो लें ।
  • पीठ की त्वचा अधिक शुष्क होने पर एक चम्मच शहद और एक चम्मच मॉइस्चराइजर मिलाकर पीठ पर लगाएं । 10 मिनट बाद पीठ को साफ कर लें ।
  • पीठ हल्की भूरी होने पर पीठ की सुन्दरता के लिए एक चम्मच जौ के आटे में एक चम्मच कच्चा दूध मिलाकर पेस्ट बना लें । इसे पूरी पीठ पर लगाएं । सूखने पर उबटन की तरह बत्तियां बनाते हुए उतार लें ।
  • एक चम्मच बेसन में दो चम्मच गुलाबजल मिलाकर पीठ पर लगाएं । सूखने पर रगड़-रगड़कर छुड़ाएं । यह पीठ के मैल साफ कर देता है ।
  • धूप या प्रदूषण से पीठ की त्वचा काली पड़ जाने पर पीठ की सुन्दरता के लिए एक चम्मच कच्चे नारियल का दूध, एक चम्मच जौ का आटा तथा 4-5 बूंद नीबू का रस-इन तीनों को मिलाकर पीठ और कंधों पर लगाएं । 10 मिनट बाद साफ कर लें । नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने पर पीठ का सौंदर्य लौट आता है ।
  • पीठ पर दाग-धब्बे होने पर एक कप गरम पानी में एक चम्मच सेंधा नमक और 4-5 बूंद लेवेंडर ऑयल या ओलिव ऑयल मिलाएं । इसे पूरी पीठ पर लगाकर सूखने दें । यह पीठ के दाग-धब्बों को दूर कर पीठ की सुन्दरता में सहायक है ।

पीठ को काली होने से बचाने के उपाय:

पीठ की सुन्दरता को बनाये रखने या पीठ को काली होने से बचाने के लिए निम्न बातों का ध्यान अवश्य रखें |

  • स्नान करते समय लंबे हैंडल वाले ब्रश को लिक्विड सोप में डुबोकर अच्छी तरह पीठ की नियमित सफाई करें ।
  • ध्यान रहे पीठ की सुन्दरता के लिए डैण्ड्रफ युक्त बालों को संवारते वक्त डैण्ड्रफ पीठ पर न गिरें ।
  •  डैण्ड्रफ के कणों से पीठ पर इंफेक्शन होने का भय रहता है ।
  • पीठ पर हल्के बाल होने पर उन्हें ब्लीचिंग द्वारा छिपाएं ।
  • पीठ पर अधिक बाल होने पर वैक्सिंग द्वारा निकलवा दें ।
  • पीठ पर धब्बे होने पर इन्हें मेकअप द्वारा छिपा सकती हैं ।
  • पीठ की सुन्दरता के लिए या पीठ के दाग-धब्बों को छिपाने के लिए उन पर त्वचा के रंग से एक शेड गहरा कंसीलर लगाएं । इसके बाद लूज टेलकम पाउडर लगाएं ।
  • बैकलेस ड्रेसेस पहनने पर पीठ पर मेकअप का जादुई स्पर्श देना न भूलें ।
  • चौड़े पफ से पूरी पीठ पर इस तरह दबाकर पाउडर लगाएं कि वह ठीक से पैठ जाए । इसके बाद चेहरे पर इस्तेमाल किए जाने वाले फाउंडेशन से एक शेड गहरा फाउंडेशन स्पंज में लेकर लगाएं ।
  • पीठ की त्वचा धूप के प्रति काफी संवेदनशील होती है जिससे वह जल्द ही काली पड़ जाती है । इसलिए धूप में निकलते वक्त सनक्रीम लगा लें ।

पीठ की सुन्दरता के लिए व्यायाम:

  • पीठ की सुन्दरता के लिए पीठ के बल लेट जाएं । अब अपने पैर और सिर को एक साथ ऊपर उठाएं । फिर सीधी लेट जाएं । ऐसा 8-10 बार करें ।
  • पेट के बल लेट जाएं । दाएं हाथ से बाएं पैर को पकड़कर कभी हाथ की ओर तथा कभी पैर की ओर खींचें । ऐसे ही बाएं हाथ से दायां पैर खींचकर करें । यह क्रिया भी 8-10 बार दोहराएं । इससे पीठ सुडौल बनी रहती है ।
  • पीठ के सहारे जमीन पर लेट जाएं । घुटनों को मोड़कर एड़ियों को कूल्हों के पास लाएं । हाथों से जांघों को खींचते हुए सिर को थोड़ा-सा ऊपर की ओर उठाएं । अब सिर को पीछे की ओर झुकाएं । रीढ़ को मोड़ते हुए धनुष का आकार बनाएं । धनुषाकार बन जाने पर सिर को जमीन पर टिका रहने दें । 6-8 सेकण्ड तक इसी मुद्रा में रहें । धीरे-धीरे क्रमानुसार गहरी सांस लेती रहें । फिर सामान्य स्थिति में आ जाएं । इससे गर्दन और पीठ की सुन्दरता बनी रहती है और उनका कड़ापन दूर होता है । पीठ और रीढ़ की मांसपेशियां सक्रिय हो जाती हैं ।

अन्य पढ़ें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top