मोटापा से बचाव एवं वजन कम करने के असरकारक तरीके

मोटापा से बचाव इसलिए जरुरी हो जाता है क्योंकि मोटापा न सिर्फ सेहत का दुश्मन है बल्कि यह सौंदर्य का भी सबसे बड़ा दुश्मन है । गलत खानपान तथा व्यायाम के अभाव में शरीर का मोटापा बढ़ जाता है । चिकित्सकों के अनुसार जब शरीर में ऊष्मा की उत्पत्ति एवं व्यय का संतुलन बिगड़ जाता है, तब शरीर के विभिन्न हिस्सों में वसा की परत जमा होने लगती है । नतीजा मोटापा बढ़ जाता है । अनेक बार देखा गया है कि विवाह के पहले ककड़ी-सी काया वाली युवती विवाह के बाद गोल कद्दू में बदल जाती है । मोटापा बढ़ने से अनेक प्रकार के रोग-डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज, कमर दर्द, पीठ का दर्द इत्यादि के साथ-साथ थकान, बेचैनी, घबराहट, सुस्ती जैसी शिकायत भी उत्पन्न हो जाती है । इसलिए अपने शरीर के प्रति सजग रहें । मोटापे से बचने के लिए अपने खानपान तथा व्यायाम आदि पर अवश्य ध्यान देना चाहिए ।

मोटापा से बचाव

मोटापा से बचाव के लिए क्या करें?

मोटापा से खुद को बचाने के लिए व्यक्ति को खानपान से लेकर व्यायाम इत्यादि का ध्यान रखना पड़ता है | आइये जानते हैं कैसे कोई व्यक्ति मोटापे से अपने आप को बचाए रख सकता है |

मोटापा से बचाव के लिए खानपान सम्बन्धी नियम:

  • शरीर को सुडौल बनाए रखने के लिए निश्चित समय पर संतुलित एवं पौष्टिक भोजन करना जरूरी है ।
  • अनेक महिलाएं धार्मिक प्रवृत्ति की होती हैं जो व्रत-उपवास अधिक करती हैं । किंतु उपवास तोड़ने पर खूब जमकर खाती हैं । ऐसे में शरीर पर मोटापा बढ़ना शुरू हो जाता है । एक बार में आवश्यकता से अधिक न खाएं । दो-तीन बार में थोड़ा-थोड़ा करके खा सकती हैं ।
  • फाइबर (रेशे) युक्त आहार का अधिक सेवन करें । फाइबर शरीर के लिए अति महत्वपूर्ण है । यह शरीर में संचित मल, विष एवं वायु को अपने साथ बहा ले जाता है । हरी सब्जी, फल तथा चोकर युक्त आटा आदि में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है ।
  • मोटापा से मुक्ति चाहते हैं तो ध्यान रहे आधुनिक खानपान-फास्ट फूड, चायनीज नूडल्स, बर्गर आदि में फाइबर तत्वों का अभाव होता है । अतः इनका सेवन न करें ।
  • बिना चबाए पानी के सहारे जल्दी-जल्दी कौर निगलने से भोजन का उचित पाचन नहीं हो पाता तथा पेट में भोजन अधिक चला जाता है । इसलिए भोजन को आराम से चबा-चबाकर खाना चाहिए ।
  • चाट, पकौड़े, समोसा, कचौड़ी, चटपटे पदार्थ, कोल्ड ड्रिंक्स, चाय, कॉफी, शराब आदि का सेवन न करें । ये भी शरीर पर मोटापा बढ़ाते हैं ।
  • सुबह का नाश्ता जरूर करना चाहिए । यह शरीर की कैलोरी शक्ति को संतुलित बनाए रखता है । मोटापा से मुक्ति के लिए खानपान में बदलाव लाना बेहद जरुरी होता है इसलिए मिठाई, टॉफी, चॉकलेट या कोक के शौकीन न बनें । ये शरीर पर चर्बी की परत चढ़ा देते हैं ।

मोटापा से बचाव के लिए पानी पीने सम्बन्धी नियम:

  • पानी शरीर के लिए बेहद जरूरी है । इसे समुचित मात्रा में पीना चाहिए ।
  • दिन भर में कम से कम 8-10 गिलास पानी अवश्य पिएं ।
  • पानी शरीर में जमा बेकार तथा जहरीले तत्वों को बाहर निकालता है ।
  • पानी शरीर का तापमान भी नियंत्रित करता है ।
  • पानी पाचन शक्ति को बनाए रखता है ।
  • पानी के भरपूर सेवन से त्वचा एवं बालों की चमक बरकरार रहती है ।
  • भूख लगने पर पानी पी लेने से भूख खत्म हो जाती है ।
  • पानी वजन को नियंत्रित करने में भी खास भूमिका निभाता है । इसलिए मोटापा से बचने के लिए खूब पानी पीयें |

मोटापा से बचाव के लिए आराम सम्बन्धी नियम:

  • काम-काज के बाद शरीर को आराम देना भी जरूरी है । इसके लिए भरपूर नींद लें जिससे शरीर को आराम मिले।
  • दिन भर पड़े-पड़े सोना भी उचित नहीं है । इससे शरीर पर अतिरिक्त चर्बी की परत चढ़नी शुरू हो जाती है ।
  • सामान्य रूप से एक वयस्क व्यक्ति को कम से कम 8 घंटे आराम की आवश्यकता होती है । इससे अधिक देर तक सोना उचित नहीं होता ।
  • रात्रि में देर तक जागना, सुबह देर तक सोना तथा दोहपर में खूब सोना भी मोटापा पैदा करता है ।

मोटापा से बचाव के लिए व्यायाम सम्बन्धी नियम:

  • नियमित रूप से व्यायाम करने पर शरीर का फिगर बना रहता है ।
  • व्यायाम से न सिर्फ कैलोरी नष्ट होती है बल्कि चयापचय क्रिया भी बराबर होती रहती है ।
  • एरोबिक शरीर के लिए एक अच्छा व्यायाम है । यदि आप इसे न कर पाएं तो सुबह की सैर, दौड़ या साइकिलिंग आदि कर सकते हैं ।

मोटापा या वजन कैसे घटाएं? (Tips to Reduce Weight in Hindi):

जरा-सी मोटी हुईं नहीं कि कुछ महिलाएं फौरन डायटिंग शुरू कर देती हैं । परंतु डायटिंग के बारे में सही जानकारी न होने से वे अपने शरीर को अधिक मोटा या बीमार बना लेती हैं । अधिकतर महिलाएं भोजन न करने यानी भूखे रहने को डायटिंग समझती हैं जबकि ऐसा नहीं है । डायटिंग का मतलब होता है-चयापचय क्रिया को तेज करना जिससे शरीर की कैलोरी नष्ट होकर शरीर का वजन कम हो । वजन घटाने के लिए कुछ टिप्स प्रस्तुत किए जा रहे हैं । इन पर अमल करके आप अपना वजन घटा सकते  हैं |

  • नियमित रूप से भोजन करें । यदि आप एक समय का भोजन गोल करते हैं तो दूसरे समय अधिक खा लेंगे इसलिए वजन घटाने या मोटापा कम करने के लिए नियमित भोजन करना जरुरी है ।
  • पाचन क्रिया को सशक्त और व्यवस्थित रखने के लिए दिन भर में तीन बार संतुलित आहार अवश्य लें ।
  • समुचित कैलोरी ग्रहण करें । यदि आप कम कैलोरी ग्रहण करते हैं तो आपका शरीर इस कमी को भूखे रहने का संकेत मान लेता है । फलस्वरूप ऊर्जा बचाने के लिए चयापचय की क्रिया मंद कर देता है । अर्थात् कम खाने की क्रिया से शरीर कैलोरी शक्ति कम नष्ट करता है ।
  • सदैव पौष्टिक आहार लें । जब भी डायटिंग करें, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर आहार का सेवन करें ।
  • मोटापा या वजन घटाने के लिए चिकनाई की मात्रा कम करें । चिकनाई युक्त आहार शरीर में वसा की मात्रा बढ़ाते हैं । इसलिए चिकनाई का कम से कम इस्तेमाल करें ।
  • भोजन को धीरे-धीरे खाएं । जब भी आप भोजन करें, शांत मन से बैठकर चबा-चबाकर खाएं ।
  • दिन का भोजन करने के बाद कुछ देर विश्राम करें जबकि रात का भोजन करने के बाद कम से कम आधा किलोमीटर टहलें । भोजन के बाद तुरंत सोने से मोटापा और वजन बढ़ता है ।
  • पानी खूब पिएं । पानी अधिक पीने से शरीर की गंदगी बाहर निकलती है । तेज भूख भी कम होती है । मोटापा कम करने के लिए भोजन के साथ सलाद का सेवन अवश्य करें । सलाद में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है ।
  • वजन कम करने के लिए रोजाना सुबह खाली पेट एक नीबू को गुनगुने पानी में निचोड़कर पिएं या एक चम्मच शहद डालकर पिएं । इससे शरीर का मोटापा कम होता है ।
  • थोड़ी दूर तक जाने के लिए रिक्शा, स्कूटर या कार का प्रयोग न करके पैदल ही चलें । इससे चयापचय क्रिया में सुधार होता है ।

About Author:

HBG Health desk is a team of Experienced professionals holding various skills. They are expert to do research online and offline on health, beauty, wellness, and other components of health in Hindi.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *