Allergy Symptoms and Treatment एलर्जी के लक्षण एवं ईलाज |

Allergy का आमतौर पर हिन्दी में अर्थ खाज खुजली की अधिकता से लगाया जाता है और जिसे आमतौर पर हर किसी व्यक्ति द्वारा नज़रअंदाज अर्थात अनदेखा कर दिया जाता है | या फिर इस खाज खुजली को यह सोचकर चिकित्सक को नहीं दिखाया जाता है की यह कुछ दिनों बाद अपने आप ठीक हो जाएगी | लेकिन ऐसा होता नहीं है अधिकतर तौर पर इस प्रकार की खाज खुजली Allergy का रूप धारण कर लेती है | एलर्जी किसी भी वस्तु से हो सकती है जैसे कि धूल, मिट्टी, खाद्य पदार्थ, कपड़े, कीड़े, मल-मूत्र, हवा, पेड़-पौधे इत्यादि ।

Allergy

Allergy कैसे पैदा होती है?

Allergy नामक इस प्रक्रिया में होता क्या है की उपर्युक्त दिए गए वस्तुओं में से कोई भी वस्तु जिससे व्यक्ति को एलर्जी हो जब उसके शरीर के संपर्क में आती है तो उसके शरीर का रक्षा तंत्र (Immune System) गलती से यह समझ लेता है कि अमुक वस्तु शरीर के लिए नुकसानदायक है, यही कारण है की उस वस्तु विशेष के लिए शरीर में उस वस्तु के लिए एलर्जी पैदा होती है । ऐसे में हमारे शरीर की रक्षा के लिए हमारा प्रतिरक्षा तंत्र उस खाद्य पदार्थ के एंटीबाडीज जिन्हें immunoglobulin e कहते हैं का निर्माण करता है । ये प्रतिजैविक शरीर में मास्टसैन्स बनाते हैं। यही Allergy Cells होते हैं, इन्हीं एलर्जी  सैल्स से हिस्टामाइन निकलता है जोकि शरीर से खाज, खुजली, दाफड़ आदि पैदा करता है। कई बार यह नाक, आंखे, गला, फेफड़े आदि को भी प्रभावित कर सकती है ।

Allergy के लक्षण (Symptoms of Allergy):

Allergy किसी भी उम्र में हो सकती है, एलर्जी के लक्षण एर्लेजन के लेने से ही शुरू हो जाते हैं । लक्षण उत्पन्न होने में कुछ मिनट से कुछ घण्टे का समय लग सकता है । हालांकि ज्यादातर लक्षण एक दिन से भी कम अवधि तक ही रहते हैं परंतु ये मनुष्य की  त्वचा, श्वसन तंत्र तथा पाचन तंत्र को प्रभावित कर देते हैं । प्रतिक्रिया होने पर त्वचा लाल हो जाती है। उस पर फफोले भी उभर सकते हैं। पीड़ित व्यक्ति पेट में मरोड़ तथा उल्टी की शिकायत भी कर सकता है। पीड़ित व्यक्ति को खांसी, छींक तथा दमें का आघात हो सकता है। रोगी को नाक बहने की शिकायत भी हो सकती हैं। गंभीर Allergy के परिणामस्वरूप एनाफलेक्सिस हो सकता है। यह एक गंभीर किस्म का एलर्जिक रिएक्शन है जिससे मुंह, गले तथा फेफड़े में सूजन आ जाती है और रोगी को सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। एनाफ्लेक्सिस से रक्तचाप खतरनाक स्तर तक गिर सकता है ।

एलर्जी का ईलाज (Treatment of allergy in Hindi):

Allergy के परीक्षण के लिए पहले शारीरिक परीक्षण किया जाता है । चिकित्सक द्वारा मरीज को कुछ प्रश्न जैसे कि एलर्जी के लक्षण शरीर में कितनी बार उभरते हैं, किसी खाद्य पदार्थ या अन्य किसी वस्तु जिससे मरीज को शक है, लेने के कितनी देर बाद लक्षण उभरते हैं, परिवार में किसी को भी Allergy, दमा या एक्जीमा है या नहीं, इत्यादि प्रशन भी पूछे जा सकते हैं । एलर्जी के Treatment अर्थात ईलाज हेतु विभिन्न प्रकार की दवाओं का प्रयोग किया जाता है । इसमें तरह-तरह की एलर्जी को दबाने की दवाएं होती हैं जिन्हें Fexofenidine कहा जाता है इन दवाओं में  Avil, Cetrizine, Fexofenioine इत्यादि सम्मिलित हैं | कुछ स्थितियों में Steroids का भी प्रयोग अनिवार्य हो जाता है। Steroids हमेशा चिकित्सक की सलाह पर एवं लगातार Monitoring के पश्चात् ही लेने चाहिए | लगाने वाली दवाओं का भी Allergy Treatment में महत्वपूर्ण भूमिका है | Allergy का शक होने पर एक कुशल चिकित्सक द्वारा एलर्जी का टेस्ट करवाया जाता है । इसके लिए एलर्जन की बूंदों को बाजू पर लगाया जाता है और एक सूई की सहायता से थोड़ी सी त्वचा खुरच ली जाती है । यदि त्वचा में सूजन या लाली आती है तो यह इस बात का संकेत है कि व्यक्ति को उस वस्तु से एलर्जी है । Allergy Test से पहले जरूरी है कि रोगी ने पांच दिन पहले किसी भी प्रकार की एंटी एलर्जी दवा का सेवन न किया हो अन्यथा त्वचा के परीक्षण के परिणाम शत-प्रतिशत ठीक नहीं आ पाते। इस प्रकार का परीक्षण वहीं पर किया जाता है, जहां पर जरूरत पड़ने पर तुरंत चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध हो सके ।

समबन्धित लेख:

कुछ गंभीर बीमारियों के शुरूआती लक्षण |

कब्ज के कारण, प्रकार नुकसान एवं ईलाज पूरी गाइड हिन्दी में |

बवासीर के कारण, लक्षण, प्रकार एवं ईलाज पूरी गाइड हिन्दी में | 

पित्ताशय की पथरी के कारण, लक्षण, जांच एवं ईलाज की पूरी जानकारी |

पेट के अल्सर के कारण, लक्षण, जांच एवं ईलाज की सम्पूर्ण जानकारी |  
आँतों की टीबी की जांच, लक्षण एवं ईलाज की पूरी जानकारी |
 

One Reply to “Allergy Symptoms and Treatment एलर्जी के लक्षण एवं ईलाज |”

  1. Muje 1 week ho Gaya .meri Khushi nahi Jaa rahe hai.Mai medicine bhi Liya hun parntu thik nahi ho Rahi hai. Muje oopchar Bata plese.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *