चॉकलेट के फायदे एवं सात चमत्कारिक गुण.

आम तौर पर साधारण लोग चॉकलेट के फायदे से भली भांति वाकिफ नहीं होते इसलिए उनके मन में चॉकलेट के सेवन को लेकर गलतफहमियां व्याप्त रहती हैं | इन गलतफहमियों का आधार चॉकलेट के प्रति समाज में व्याप्त कुछ धारणाएं है जैसे नियमित रूप से अधिक मात्रा में चॉकलेट खाने से मोटापा बढ़ता है, दांत खराब होकर उनमें कीड़े लग जाते हैं, खून में वसा की मात्रा बढ़ जाती है, शर्करा की मात्रा अधिक हो जाने से मधुमेह, मोतियाबिंद और हृदय रोगों का जन्म हो सकता है इत्यादि । इन सब कमियों के बावजूद भी इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है की चॉकलेट खाने के केवल हानियाँ ही हानियाँ हैं | बल्कि वास्तविकता यह है कि चॉकलेट का सेवन केवल हानिकारक ही नहीं होता है । बल्कि कभी-कभार थोड़ी मात्रा में इसका सेवन करना लाभदायक भी पाया गया है । लेकिन ध्यान रहे चॉकलेट के फायदे लेने के लिए इसे खाने के बाद पानी से कुल्ला अवश्य कर लेना चाहिए या ब्रश से दांतों की सफाई करने का ध्यान रखना चाहिए । तो आइये जानते हैं चॉकलेट खाने के कुछ मुख्य फायदों के बारे में जिनकी लिस्ट निम्नवत है |

चॉकलेट के फायदे

  1. चॉकलेट के फायदे तुरंत स्फूर्ति देती है चॉकलेट:

कहा जाता है कि नेपोलियन अभियान पर जाते समय हमेशा अपने पास चॉकलेट रखता था, क्योंकि उसे चॉकलेट के तत्काल स्फूर्ति देने वाले गुणों में बहुत विश्वास था । चॉकलेट खाने के शौकीन लोगों का कहना है कि इसके खाने से उन्हें तुरंत ताकत और स्फूर्ति मिलती है । चॉकलेट चीनी, दूध, मक्खन, एंफेटामाइन, कोको, कैफीन आदि पदार्थ विशेष अनुपात में मिलाकर बनाया जाता है । अतः इससे हमारे शरीर को कार्बोहाइड्रेट, चर्बी, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, थायमिन, राइबोफ्लेमिन तथा विटामिंस मिलते हैं । कोको और मक्खन की मौजूदगी से चॉकलेट मुंह में जाते ही पिघलने लगती है और अपना एक खास स्वाद पैदा करती है । चॉकलेट के सूंघने से तनाव दूर होता है, क्योंकि इससे मस्तिष्क में ऐसी प्रतिक्रिया होती है जिससे न केवल मानसिक तनाव दूर होता है बल्कि मूड भी अच्छा बन जाता है । चॉकलेट के फायदे की बात करें तो चॉकलेट का सकारात्मक प्रभाव मन को शांति और सकून भी पहुंचाता है ।

  1. डिप्रेशन दूर करने में चॉकलेट के फायदे:

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय की डेनीलपियोमेली का अनुमान है कि लोग चॉकलेट खाकर स्वयं को अवसाद (डिप्रेशन) से छुटकारा दिलाते हैं । संभवतः इसी कारण महिलाओं में उनके मासिक धर्म शुरू होने से पहले चॉकलेट खाने की प्रवृत्ति अधिक बढ़ जाती है । चॉकलेट में मिला फिनीलिथिलेमाइन नामक उत्प्रेरक हार्मोन महिलाओं को ऐसा एहसास दिलाता है, मानो वे किसी व्यक्ति के प्रेम में हों । उल्लेखनीय है कि फिनीलिथिलेमाइन मनुष्य के मस्तिष्क में आनंद की चरम अवस्था में उत्पन्न होता है ।

  1. चॉकलेट खाने से बढती है प्रतिरोधी शक्ति:

चॉकलेट के फायदे में यह फायदा प्रतिरोधी शक्ति से जुड़ा हुआ है चॉकलेट शोधकर्ताओं के अनुसार थकने पर चॉकलेट की एक अच्छी खुराक लेने से शारीरिक और मानसिक थकान दूर होकर भावनात्मक आनंद की अनुभूति होती है, जो हमारे शरीर के प्रतिरोधी तंत्र की दक्षता में वृद्धि करती है । इसका प्रभाव चॉकलेट खाने के कई घंटे बाद तक भी बना रहता है । अतः थकावट और ऊर्जा की कमी के कारण काम न कर पाने की स्थिति के लिए चॉकलेट आदर्श इलाज है ।

  1. चॉकलेट का सेवन कैंसर की बीमारी से बचाता है

चॉकलेट के फायदे में यह फायदा कैंसर जैसी भयावह बीमारी से जुड़ा हुआ है | हालैंड के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ एंड इनवायरमेंट ने अपने शोध में बताया है कि चॉकलेट स्वास्थ्य के लिए चाय या दूसरे गर्म पेयों से ज्यादा फायदेमंद है, क्योंकि इसमें वे केमिकल्स अधिक मौजूद होते हैं, जो कैंसर और दिल की बीमारियों से हमें बचाते हैं । उल्लेखनीय है कि चॉकलेट में चाय से चार गुना अधिक मात्रा में केटेचिंस पाया जाता है, जो कैंसर और दिल के रोगों को रोकता है ।

  1. दिल के रोगों से भी बचाती है चॉकलेट:

खोजकर्ताओं ने पल भर में मुंह में मिठास घोल देने वाली चॉकलेटों में इतने तत्व पाए हैं कि वे इसे ‘वर्ल्ड का नंबर वन कॅम्फॅर्ट फूड’ करार दे रहे हैं । आहार विशेषज्ञों ने चॉकलेटों में फेनोलिक एसिड नामक रसायन पाया है, जो दिल के रोगों का प्रतिरोधक है । चॉकलेट के फायदे में यह बताना बेहद जरुरी है की चॉकलेट के नियमित सेवन से रजोनिवृत्ति के बाद उच्च कोलेस्ट्राल वाली महिलाओं और दिल की बीमारी से पीड़ितों में रक्त प्रवाह में इजाफा होता है ।

  1. दांतों का गिरना भी रोकती है चॉकलेट:

ओसाका विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि चॉकलेट के मूल अवयव कोको फली (बीन) के कुछ तत्व मुंह के बैक्टीरिया और दंत क्षय को रोकते हैं । उन्होंने पाया कि कोको बीन का छिलका, जिसे चॉकलेट बनाते समय बहुधा फेंक दिया जाता है, मुंह में कीटाणुरोधी प्रभाव पैदा करता है और प्लाक व अन्य क्षयकारी एजेंटों से प्रभावी ढंग से लड़ सकता है ।

  1. खांसी में चॉकलेट के फायदे:

लंदन के इम्पीरियल कॉलेज के शोधकर्ताओं ने एक शोध में पाया कि चॉकलेट के फायदे खांसी में इसलिए ज्यादा प्रभावशाली सिद्ध हुए क्योंकि कोको में थियोब्रोमीन काफी अधिक मात्रा में पाई जाती है जो वेगस नामक नस की सक्रियता को कम कर देती है जो खांसी उत्पन्न करने के लिए उत्तरदायी होती है ।

अन्य पढ़ें:

मलेरिया के रोगी को क्या खाना चाहिए क्या नहीं?

मिर्गी के रोगी को क्या खाना चाहिए क्या नहीं?

टाइफाइड के रोगी को क्या खाना चाहिए क्या नहीं?

About Author:

Post Graduate from Delhi University, certified Dietitian & Nutritionists. She also hold a diploma in Naturopathy.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *