Colon Cancer- बड़ी आंत के कैंसर के कारण लक्षण एवं उपचार.

बड़ी आँत के कैंसर को Colon Cancer भी कहा जा सकता है आँतों का मनुष्य की पाचन प्रणाली में बड़ा अहम् योगदान होता है हालांकि शरीर में वैसे तो विभिन्न आंते होती हैं लेकिन मुख्य रूप से दो आँत बड़ी आँ त एवं छोटी आँ त होती हैं | चूँकि आँ त पेट के अन्दर विद्यमान रहती हैं इसलिए इन्हें सामान्य बोलचाल की भाषा में पेट का कैंसर भी कह देते हैं | लेकिन पेट के अन्दर जब बड़ी आँ त में कैंसर के लक्षण पाए जाते हैं तो उसे बड़ी आँ त का कैंसर अर्थात Colon Cancer ही कहा जाता है |

Colon Cancer information-in-hindi

बड़ी आँत के कैंसर के कारण(Possible cause of colon cancer):

बड़ी आंत का कैंसर (Colon Cancer) शरीर में क्यों विकसित होता है इसके लिए कुछ सुनिश्चित अर्थात एकदम सही कारणों का पता अभी तक नहीं लग पाया है लेकिन ऐसी बहुत सारी बातें हैं जिससे इस कैंसर के विकसित होने की संभावना बढ़ जाती है |

  • आहार अर्थात खाने में लाल मांस (Red Meatजैसे गाय का मांस, भैंस का मांस, बकरे का मांस, सूअर का मांस इत्यादि  एवं Processed Red meat जैसेsausage, bacon, pate एवं अन्य packaged meat का बहुतायत तौर पर उपयोग भी  पर उपयोग भी बड़ी आंत के कैंसर का कारण बन सकता है | यद्यपि सप्ताह में Red Meat का एक या दो बार उपयोग करने से बड़ी आंत के कैंसर का कोई खतरा पाया नहीं गया है |
  • Physically Active न रहना भी बड़ी आँ त के कैंसर का कारण हो सकता है |
  • जरुरत से अधिक मोटापा या वजन बढ़ा लेना भी एक कारण हो सकता है |
  • ऐसे व्यक्ति जिन्होंने लम्बे समय तक धुम्रपान किया हो या कर रहे हैं में भी इस प्रकार के कैंसर होने का ज्यादा खतरा रहता है |
  • पहले से आंत सम्बन्धी कोई बीमारी एवं बीमारी के कारण आँतों में होने वाली जलन भी कैंसर का कारण बन सकती है |
  • पारिवारिक इतिहास अर्थात आनुवंशिकता भी एक कारण हो सकती है |

बड़ी आँत के कैंसर के लक्षण (Symptoms of colon Cancer in Hindi):

यद्यपि यहाँ पर हम यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं की निम्न में दिए गए लक्षणों (Symptoms) का किसी व्यक्ति विशेष में पाया जाने का मतलब यह नहीं है की उसे बड़ी आँ त का कैंसर ही है और यह भी नहीं है की उसे बड़ी आँ त का कैंसर नहीं है निम्न में से कोई भी लक्षण नज़र आने पर व्यक्ति को चाहिए की वह चिकित्सक से मिलकर उनसे राय परामर्श ले |

  • शौंच क्रिया करते वक्त शौंच के साथ खून आना |
  • शौचालय के समय में बदलाव आना अर्थात शौच क्रिया का अनियमित हो जाना, अनियमितता से आशय या तो बहुत ज्यादा बार शौच जाना या शौच जाने को मन ही नहीं करना भी हो सकता है |
  • अकारण ही शरीर का वजन कम हो जाना |
  • गुदाद्वार या पेट के निचले हिस्से में दर्द महसूस होना |
  • बिना किसी शारीरिक या मानसिक परिश्रम के थका हुआ सा महसूस करना |
  • शौच करने के बावजूद भी पेट भरी भरी महसूस होना अर्थात ऐसा लग्न जैसे पेट अच्छी तरह खाली न हुआ हो |

इसके अलावा बड़ी अंत के कैंसर की वजह से आँतों में गतिरोध पैदा हो सकता है जिससे शौंच न होना, पेट फूला रहना, पेट में दर्द होना उल्टियाँ होना इत्यादि Symptoms देखने को मिल सकते हैं |

जांच एवं इलाज (Tests and Treatment for colon cancer):

उपर्युक्त लक्षणों के मद्देनज़र यदि चिकित्सक को बड़ी अंत का कैंसर होने का शक होता है तो वे मरीज की विभिन्न प्रकार की जांच कर सकते हैं इसमें अंत के लिए मुख्य रूप से जो जांच होती है उसका नाम है colonoscopy इसके अलावा भी विभिन्न जांच चिकित्सक द्वारा परामर्शित की जा सकती हैं जिनकी लिस्ट निम्नवत है |

  • Virtual colonoscopy
  • sigmoidoscopy
  • Biopsy
  • Blood Test
  • CT Scan
  • PET Scan
  • MRI

जहाँ तक बड़ी आँत के कैंसर के इलाज (Treatment) का सवाल है इसका उपचार विशेषज्ञों की एक पूरी टीम द्वारा किया जाता है |  इसमें निम्नलिखित विशेषज्ञ शामिल रह सकते हैं |

  • आँतों के कैंसर की सर्जरी करने वाला विशेषज्ञ |
  • Medical oncologist |
  • Clinical oncologist |
  • radiologist |
  • pathologist |
  • gastroenterologist |
  • food specialist |
  • physiotherapist |
  • specialist nurse |
  • stoma care nurse |

विभिन्न टेस्ट अर्थात जांच के नतीजों के बाद चिकित्सकों द्वारा Colon Cancer की के आकार एवं फैलाव के आधार पर स्थिति निश्चित की जा सकती है इसके लिए चिकित्सकों द्वारा TNM System का सहारा लिया जाता है | उसके बाद बहु विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम द्वारा Colon Cancer यानिकी बड़ी आंत के कैंसर का ट्रीटमेंट शुरू किया जा सकता है | लेकिन सामान्य तौर पर देखा गया है की बड़ी आंत के कैंसर को आंत से अलग करने के लिए चिकित्सकों द्वारा शल्य क्रिया के माध्यम से ही उपचार किया जाता है लेकिन किस प्रकार की शल्यक्रिया किस मरीज के लिए प्रभावी रहेगी इसकी जानकारी एवं निर्णय चिकित्सक द्वारा ही लिया जाता है |

 

About Author:

HBG Health desk is a team of Experienced professionals holding various skills. They are expert to do research online and offline on health, beauty, wellness, and other components of health in Hindi.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *