Home Remedies for Dizziness in Hindi

चक्कर आने को Vertigo या dizziness भी कहा जाता है यह एक आम समस्या है की जब किसी भी मनुष्य का अचानक से सिर घूमता है और उसके आँखों के सामने धीरे धीरे अँधेरा छाने लगता है | इस वक्त प्रभावित व्यक्ति को ऐसा लगता है जैसे उसका सिर नहीं बल्कि पूरा ब्रह्माण्ड घूम रहा हो | हालांकि चक्कर आने के कई कारण होते हैं लेकिन आज हम अपने इस लेख Home Remedies for dizziness in Hindi के माध्यम से चक्कर आने के कुछ घरेलू उपचारों पर नज़र डालेंगे | लेकिन उससे पहले यह जान लेते हैं की मनुष्य को Dizziness अर्थात चक्कर आने के क्या संभावित कारण हो सकते हैं |

Home-remedies-for-dizziness

चक्कर आने के कुछ संभावित कारण (Possible Cause of Dizziness) :

चक्कर आने के कुछ संभावित कारण निम्न हैं |

  • ब्लड प्रेशर कम होना चक्कर आने का कारण हो सकता है |
  • मेनियार्स का रोग यह बीमारी कान की झिल्ली को प्रभावित करती है जिसके कारण भी Dizziness अर्थात चक्कर आ सकते हैं |
  • उक्त रक्तचाप यानिकी हाई ब्लड प्रेशर भी चक्कर आने का कारण हो सकता है |
  • दिल की धड़कन का असमान्य होना |
  • शरीर के किसी हिस्से से अत्यधिक रक्तस्राव होने के कारण भी चक्कर आ सकते हैं |
  • गर्भवती महिलाओं को भी चक्कर आ सकते हैं |

वैसे यदि देखा जाय तो चक्कर यानिकी Dizziness का सामान्य  कारण शरीर में पोषण की कमी के चलते उत्पन्न शारीरिक कमजोरी है अब यह शारीरिक कमजोरी किसी रोग के कारण हो या फिर कुपोषण के कारण |

Home Remedies for dizziness in Hindi:

 

  • गरम पानी में नीबूं का रस मिलाकर पीने से चक्कर आने पर तुरंत आराम पहुँचता है | जिसे बार बार चाकर आने या सिर चकराने की समस्या है उन्हें यह क्रिया दिन में दो बार लगभग एक महीने तक करनी चाहिए |
  • 1 चम्मच पीसी हुई सौंठ में दो चम्मच घी मिलाकर उसे गरम करके उसमे दो चम्मच शक्कर मिलाकर प्रतिदिन 20 दिनों तक एक बार खाने से Dizziness Problem में आराम होता है |
  • तुलसी के रस में चीनी मिलाकर इसका सेवन करने से भी चक्कर अआना बंद हो जाते हैं |
  • कभी कभी चक्कर आने का कारण मष्तिष्क की गर्मी भी होती है इसलिए हर रोज नारियल पानी का सेवन करने से भी चक्कर आने बंद हो जाते हैं |
  • सिर चकराने की स्थिति में दो तीन लौंग पानी में डालकर उस पानी को उबाल लें अब इस पानी को पीने से भी dizziness problem से प्रभावित व्यक्ति को तुरंत लाभ हो सकता है |

हालांकि चक्कर आने अर्थात Dizziness के लिए Home Remedies तो बहुत सारी हैं लेकिन जिनका उल्लेख हमने यहाँ पर किया है ये सभी Home Remedies अधिक प्रभावी हैं इसके अलावा एक Home Remedy इसके लिए और है जिसका उल्लेख हम थोडा विस्तृत तौर पर नीचे करेंगे |

गुठली रहित सूखे आंवले को चक्कर आने का सबसे बढ़िया घरेलू उपचार माना गया है |

विधि: प्रभावित व्यक्ति को चाहिए की वह 8-10 ग्राम सूखा आंवला एवं 8-10 ग्राम धनिये के सूखे दाने ले अब इन्हें आधा आधा कूटकर मिटटी के बर्तन में जिसमे लगभग 250 ग्राम पानी भरा हो में भिगो दे और इसे रात भर ऐसा ही रहने दें | प्रात: उठाकर इस पानी को छलनी से छान लें और इसमें स्वादानुसार चीनी मिला लें अब इसे खाली पेट पी जाएँ यह प्रक्रिया लगभग 1 हफ्ते तक करने पर Dizziness यानिकी चक्कर आने की समस्या से छुटकारा मिल जाता है |

चक्कर आने में क्या करें क्या न करें (Dos and don’ts s in dizziness in hindi):

यह करें:

  • जितना हो सके पानी अधिक से अधिक पीयें |
  • आंखों को बंद करें या उन्हें सामने के वस्तुओं पर टिकाये रखें |
  • जब चक्कर आना बंद हो जाएँ तो आराम करने की बजाय धीरे धीरे उठना या इधर उधर जाने की कोशिश करें |
  • संभव हो तो नीबूं पानी या अन्य फलों का ताजा जूस पिलाया जा सकता है |

यह न करें:

  • बहुत जल्दी या तेज़ी से आगे न बढ़ें |
  • अपना सिर या गर्दन अचानक मोड़े नहीं |
  • अपने दिमाग में बहुत ज्यादा चिंता मत लायें |
  • चाय व काफी पीने से बचें |

उपर्युक्त दी गई Home remedies को दी गई समयावधि के आधार पर अपनाने से dizziness problem यानिकी चक्कर आने की समस्या से छुटकारा मिल सकता है लेकिन गंभीर समस्याओं का एकमात्र उपाय चिकित्सक को दिखाना है |

About Author:

Post Graduate from Delhi University, certified Dietitian & Nutritionists. She also hold a diploma in Naturopathy.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *