घमौरियों का ईलाज करने के लिए बेहतरीन घरेलू नुश्खे

घमौरियों का ईलाज के बारे में अक्सर लोग इसलिए जानना चाहते हैं क्योंकि गर्मियों के मौसम में इनका उत्पन्न होना एक सामान्य समस्या है | एक तो गर्मी ऊपर से बहते पसीने के कारण घमौरियां सम्पूर्ण तन बदन में कांटे जैसे चुभा देती हैं | आम तौर पर घमौरियां शरीर के पेट, पीठ, गले इत्यादि हिस्सों में अधिक होते हैं | चूँकि यह एक आम समस्या है लेकिन लोग इससे बहुत ज्यादा परेशान हो जाते हैं तो वे घमौरियों का ईलाज के बारे में जानने को आतुर रहते हैं इसलिए आज हम हमारे इस लेख के माध्यम से Home Remedies for prickle Heat Rash के बारे में जानने की कोशिश करेंगे | अर्थात हम यहाँ पर कुछ घरेलू नुश्खों की जानकारी घमौरियों का ईलाज करने के उद्देश्य से देंगे |

घमौरियों का ईलाज

घमौरियों का ईलाज करने के लिए घरेलू उपाय:

  • घमौरियों का ईलाज करने के लिए नारंगी के छिलकों को सुखाकर पाउडर बना लें । नहाने के बाद गुलाब के पानी में भीगी हुई रुई से प्रभावित जगहों पर थपकी दें । सूखने के बाद छिलके के पाउडर को घमौरियों से प्रभावित जगहों पर छिड़क दें ।
  • दो बड़े चम्मच दूध में चन्दन को घिसकर संतरे का रस और बेसन मिलाएँ, त्वचा पर लगायें । सूखने के बाद ठण्डे पानी से धो लें । यह घरेलू उपाय खासतौर पर घमौरियों से छुटकारा दिलाता है और शीतलता प्रदान करता है ।
  • घमोरियाँ होने पर गरम स्थान, धूप, कड़े परिश्रम से बचना चाहिए । गरम पेय एवं उत्तेजक खाद्यों का सेवन बन्द कर दें बल्कि ठण्डे पेय एवं ठण्डी चीजों का अधिक मात्रा में सेवन करें ।
  • घमौरियों का ईलाज या घमौरियों से बचने के लिए नीबू, खस, अनार, चन्दन, शहतूत का नियमित सेवन कर सकते हैं । इसके अलावा नित्य दो बार नीम के पानी या नीम के साबुन का उपयोग कर शीतल जल से स्नान करने से ठण्डक महसूस होगी ।
  • पसीने को बार-बार पोंछे, खुले बदन पर प्राकृतिक हवा लगने दें । इससे भी गर्मी की घमोरियाँ दूर होती हैं ।
  • घमौरियों से बचने के लिए सूती वस्त्र पहनें, लू व तेज धूप से बचें, धूप में जाने पर टोपी, गमछे व धूप का चश्मा आदि का उपयोग करें । अधिक पानी का सेवन करें । अनन्नास का रस पीने से घमोरियाँ दूर होती हैं तथा पके हुए अनन्नास का गूदा घमोरियों पर मलने से काफी आराम मिलता है ।
  • घमौरियों का ईलाज करने के लिए मुलतानी मिट्टी पानी में भिगोकर घमोरियों पर लेप करें । चन्द दिनों में ही घमोरियाँ गायब हो जाएँगी ।
  • जंगली मेहँदी को खूब उबालकर गुनगुना होने पर घमोरियों को धोने से लाभ होगा । नीबू को पानी में निचोड़ कर स्नान करने से आराम मिलता है ।
  • इमली का पानी पीने से घमोरियो में फायदा होता है ।
  • घमौरियों का ईलाज करने के लिए दो चम्मच शहद एक गिलास पानी में मिलाकर पीने से इनसे छुटकारा मिलता है ।
  • नीम के पत्ते पीसकर घमौरियों पर मलने से आराम मिलता है ।
  • अजवाइन को गरम पानी में पीसकर इन पर लेप करने से लाभ होता है ।
  • घमोरियों को धोकर उस पर मैदा छींट देने से लाभ होता है ।
  • घमोरियों में जलन ज्यादा होने पर बर्फ मलें । मुलतानी मिट्टी या आँवले को नीबू के रस में मिलाकर सम्पूर्ण शरीर पर लेप करें, सूख जाने पर स्नान करें ।
  • मेहँदी या दही में बेसन मिलाकर पूरे शरीर पर लेप करें । सूखने पर शीतल जल से स्नान करें ।
  • घमौरियों का ईलाज करने में चन्दन का भी इस्तेमाल किया जा सकता है चूँकि चन्दन भी ठण्डा प्रभाव छोड़ता है अत: चन्दन को पानी में घिसकर लेप लगाएँ ।
  • सत्तू शीत प्रकृति का होने से इसका नियमित सेवन श्रेयस्कर है ।
  • बार्ली वाटर (जौ का पानी) में एक नीबू निचोड़ने से यह पानी प्रभावकारी सिद्ध होता है । बार्ली वाटर बाजार से खरीदने के अलावा घर पर भी बना सकते हैं ।
  • छिलके युक्त जौ के दानों का थोड़ा-सा पानी का छींटा डालकर, कूटने से उनका छिलका हट जाता है । इन्हें फिर कूटकर चार-पाँच चम्मच आधा लीटर पानी में डालकर उबालें । ठण्डा होने पर पानी निथारकर इसमें मिश्री डालकर रोजाना एक गिलास पीएँ । घमौरियों का ईलाज में यह तुरन्त राहत पहुँचाने वाला उपाय है ।
  • हरा पोदीना पीसकर चेहरे पर लगाएँ । 10 मिनट बाद धोएँ, चेहरे की गर्मी निकल जाएगी ।

अन्य पढ़ें:

About Author:

Post Graduate from Delhi University, certified Dietitian & Nutritionists. She also hold a diploma in Naturopathy.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *