चेहरे की झुर्रियां हटाने के कुछ घरेलू उपचार |

चेहरे की झुर्रियों की बात करें तो बढती उम्र के साथ चेहरे की झुर्रियां आना स्वभाविक है लेकिन वर्तमान में वातावरण में बढ़ते तरह तरह के प्रदूषण एवं मिलवाती खान पान की वजह से झुर्रियां कम उम्र में भी किसी की त्वचा पर देखी जा सकती हैं | झुर्रियां जब शरीर के किसी स्थल पर खास तौर पर माथे एवं चेहरे के स्थल पर त्वचा को देखकर ऐसा लगता है की यह सिकुड़ सी रही है अर्थात त्वचा ढीली होकर उसमे लाइनिंग से आ जाते हैं तो इन्हें झुर्रियां कहा जाता है | जैसा की हम पहले भी बता चुके हैं चेहरे पर झुर्रियां बुढ़ापे की निशानी होती हैं लेकिन यह जरुरी नहीं है की यह समस्या सिर्फ बूढ़े लोगों को हो इस समस्या से कोई भी ग्रसित हो सकता है लेकिन जब कोई नवयुवती या कम उम्र की महिला इससे ग्रसित हो जाती है तो वह वक्त से पहले ही बूढी सी लगने लगती हैं | चेहरे की झुर्रियां सुन्दरता को भी प्रभावित करता है लेकिन इनका त्वचा पर आना एक बायोलॉजिकल प्रक्रिया है कभी कभी ढंग से स्किन केयर न करने पर भी झुर्रिर्यों से कम उम्र में सामना हो सकता है अन्यथा त्वचा में मौजूद कोलेजन (Collagen) उम्र बढ़ने के साथ साथ ही कम होता है जिसके परिणाम स्वरूप स्किन अर्थात त्वचा पर झुर्रियों की उत्पति होती है |

Jhurriyan-Wrinkles

चेहरे की झुर्रियों से निपटने का तरीका :

वर्तमान में चेहरे की झुर्रियां या अन्य किसी स्थल पर हुई झुर्रियों से निपटने के लिए botox जो की एक ड्रग है और लेज़र तकनीक का उपयोग किया जा रहा है | लेकिन ऐसा देखने में आया है की यदि यह पद्यति दक्ष चिकित्सकों द्वारा नहीं की जाय तो इसके गंभीर परिणाम देखने को मिल सकते हैं | ऐसा भी देखा गया है की सबकी त्वचा पर यह तकनीक कामयाब नहीं है और इसके अलावा इन ट्रीटमेंट के लिए अच्छे खासे मात्रा में पैसों की आवश्यकता होती है जो की हर किसी के बस की बात बिलकुल भी नहीं है | इसलिए झुर्रियों से निपटने के लिए अक्सर एंटी रिंकल क्रीम या फिर  होम रेमेडी का रास्ता अपनाते हैं | क्योंकि घरेलू उपचार के ये तरीके ऐसे होते हैं जो त्वचा को नुकसान पहुंचाए बिना चेहरे या अन्य शारीरिक स्थल के झुर्रियों से निपटने का सामर्थ्य रखकर उन्हें ठीक करने का माद्दा रखते हैं |

झुर्रियों के कारण (Cause of Wrinkles in Hindi):

रिंकल होने के मुख्य कारण इस प्रकार से हैं |

  • बढती उम्र के साथ कोलेजन की कमी के कारण त्वचा में झुर्रियों का प्रदुर्भाव होता है |
  • जो लोग धुम्रपान करते हैं उनकी त्वचा में रिंकल होने की अधिक संभावना होती है |
  • फ्री रेडिकल के त्वचा को नुकसान पहुँचाने के कारण भी झुर्रियां हो सकती हैं |
  • अधिक तनाव में रहना भी एक कारण हो सकता है |
  • सूरज की ठोस किरणों का सामना करने पर भी झुर्रियां आ सकती हैं |
  • अनुवांशिकता भी एक कारण हो सकता है |
  • शरीर में पोषण की कमी भी झुर्रियां पैदा कर सकती हैं |
  • शरीर में पानी की कमी भी एक कारण हो सकती है |
  • त्वचा का प्रदूषण के संपर्क में आने पर भी झुर्रियां पैदा हो सकती है |
  • त्वचा की देखभाल न करना भी एक कारण हो सकता है |
  • अधिक मात्रा में अचानक वजन घटना भी एक कारण हो सकता है |

झुर्रियों के लक्षण (Symptoms of Wrinkles in Hindi):

  • चेहरे पर झुर्रियां होने से चेहरा बेजान सा नज़र आता है |
  • आँखों के आस पास सिलवटें सी नज़र आने लगती हैं |
  • होंठों के आस पास महीन रेखाओं का प्रदुर्भाव होता है |
  • माथे पर लकीरों का प्रादुर्भाव होता है |

झुर्रियां हटाने के तरीके (Get Rid of wrinkles in Hindi):

  • शहद का उपयोग की यदि हम बात करें तो त्वचा समबन्धि हर समस्या के लिए शहद का उपयोग किया जाता है इसलिए त्वचा पर उभर कर आई झुर्रियों के रूप में इन लकीरों को भी शहद का उपयोग करके हटाया जा सकता है | झुर्रियों वाले स्थल पर शहद लगा लें और 20-25 मिनट बाद उस स्थल को गरम पानी से धो लें |
  • शहद में मिल्क पाउडर मिलकर थोडा गरम पानी मिलाएं और इस लेप बना लें इस लेप को रिंकल अर्थात झुर्रियों वाले स्थल पर लगायें | 10-15 मिनट छोड़ देने के बाद गरम पानी से उसे धो लें |
  • नारियल का तेल गर्म करें और फिर इस तेल को ठंडा होने के लिए छोड़ दें इसे इतना ठंडा होने दें की यह त्वचा को बर्न न करे और अब इसे झुर्रियों वाले स्थल पर लगा लें |
  • जैतून का तेल यानिकी ओलिव आयल एवं नीम्बुन के उपयोग को झुर्रियों के लिए काफी असरदार माना गया है जहाँ जैतून के तेल में विटामिन डी एवं इ होता है वहीँ नीम्बुन में विटामिन सी त्वचा की गहरी से सफाई करने में मददगार साबित होता है |
  • बादाम का तेल यानिकी almond oil भी झुर्रियों को हटाने में असरदार है सोने से पहले प्रतिदिन रात को बादाम के तेल से चेहरे या प्रभावित स्थल की मसाज करने से चेहरे की झुर्रियां हट जाती हैं |
  • खीरे में भी कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो झुर्रियों को मिटाने में जड़ से कार्य करते हैं इसलिए खीरे को काटकर उसके टुकड़ों को प्रभावित स्थल या चेहरे की झुर्रियां मिटाने के लिए चेहरे पर लगाया जा सकता है |

यह भी पढ़ें :

चेहरे का सांवलापन/कालापन दूर करने के कुछ घरेलू उपचार |

चेहरे के मुहांसे ठीक करने के कुछ प्रभावी उपाय |  

 

  • मुल्तानी मिटटी का प्रयोग भी त्वचा पर कसाव लाने का काम करता है इसका प्रयोग करने के लिए इसे आधा घंटे पहले भीगा दें जब यह पानी में अच्छी तरह गल जाय तो इसमें शहद एवं खीरे, टमाटर का रस मिला दें और इस लेप को प्रभावित स्थल या चेहरे पर लगायें उसके बाद सूखने दें और ग्राम पानी से आराम आराम से मुहं धो लें यह विधि भी चेहरे की झुर्रियां मिटाने के लिए काफी कारगर है |

About Author:

Post Graduate from Delhi University, certified Dietitian & Nutritionists. She also hold a diploma in Naturopathy.

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *